Chhattisgarh Latest News in Hindi | Live Chhattisgarh | Chhattisgarh News
Live Chhattisgarh | Chhattisgarh News

क्या छत्तीसगढ़ में क्षेत्रिय कांग्रेस नेताओं की पूछ परख खत्म, होर्डिंग में नजर आ रहा है सिर्फ गांधी परिवार, होर्डिंग में छिपा है एक और संदेश जानिए क्या?

वेब डेस्क

Spread the news

रायपुर-  छत्तीसगढ़ कांग्रेस में बड़े नेताओं का क्या कद है..वो ऊपर मौजूद होर्डिंग को देखकर लगाया जा सकता है…ये होर्डिंग रायपुर के बड़े चौराहे में लगी है..इन होर्डिंग्स में जनता के नाम कांग्रेस ने संदेश लिखा है…लेकिन इस संदेश से बढ़कर ये होर्डिंग्स खुद एक बड़ा संदेश दे रहे हैं….प्रधानमंत्री को तानाशाह और अहंकारी बतानी वाली कांग्रेस का असली चेहरा इस होर्डिंग में दिख रहा है..ये होर्डिंग तो लगाई गई है छत्तीसगढ़ की जनता के लिए, लेकिन छत्तीसगढ़ की जनता के लिए अपना खून बहाने वाले नेता इस होर्डिंग से गायब है..चुनाव हैं कम से कम उन नेताओं को तो इस होर्डिंग में जगह मिलनी ही चाहिए जिन्होंने इस प्रदेश के हर मोर्चे पर कांग्रेस का झंडा थामा है..प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर प्रदेश सरकार के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश की…कई आंदोलनों में डटे रहे..लेकिन अब उनके इस काम का पार्टी ने क्या सिला दिया है..ये खुद देख लिजिए…आलाकमान ने इस होर्डिंग को लगाकर ये साबित कर दिया है कि मार्केट में अब छत्तीसगढ़ के नेता नहीं चलेंगे..ये नेता छत्तीसगढ़ में ही बुझे हुए कारतूस हो चुके हैं..न इनमे बारूद बचा है और न ही ये जोरों से आवाज करेंगे…लिहाजा आलाकमान ने खुद को चेहरा बनाकर आगामी चुनाव में सीएम पद का दावेदार मान रहे कांग्रेस नेताओं की बोलती बंद कर दी है..या यूं कहें उन्हीं के प्रदेश में उनके कद को दिखा दिया है….तो क्या ये मान लिया जाए कि कांग्रेस में अब छत्तीसगढ़ लेबल का कोई भी नेता नहीं बचा है जिसकी दिल्ली दरबार में जगह पक्की की हो..इस होर्डिंग को देखकर तो यही लगता है…जब कांग्रेसियों से इस बारे में पूछा जाएगा तो वो पार्टी के हित में ही कहेंगे..लेकिन जनता से पूछिए जरा..जिन्होंने इस होर्डिंग को देखकर कांग्रेस के लिए क्या बातें कहीं है..हम यदि यहां जनता के नजरिए को लिखेंगे तो दिल्ली वाले नेता यही कहेंगे कि ऐसा कुछ नहीं है..लेकिन हकीकत में ऐसा है..कांग्रेस में आज जितने भी नेता छत्तीसगढ़ में सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं, चौक-चौराहों में पार्टी के लिए विरोधियों से लड़ रहे हैं..उन्हीं नेताओं और उनसे जुड़े कार्यकर्ताओं की पार्टी में ही कोई पूछ परख नहीं है..

- Advertisement -

इस होर्डिंग को देखकर अब ये लगने लगा है कि कांग्रेस जिस एकजुटता और राष्ट्रीयता की बातें कहती है, वो एकजुटता और विश्वास अब खुद बड़े नेताओं में नहीं रह गया है…

Comments
Loading...