Chhattisgarh Latest News in Hindi | Live Chhattisgarh | Chhattisgarh News
Live Chhattisgarh | Chhattisgarh News

4 दिसंबर को ही क्यों मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस?

Spread the news

हर साल भारत में 4 दिसंबर को नौसना के वीरों को याद करने के लिए भारतीय नौसेना दिवस मनाया जाता है,  साल 1971 में हुए ऑपरेशन ट्राइडेंट और 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारतीय नौसेना की जीत के जश्न के रूप में नेवी डे मनाया जाता है. साल 1971 में 4 दिसंबर को ही भारतीय नौसेना ने पाकिस्‍तान के खिलाफ ऑपरेशन ट्राइडेंट शुरू किया था और इसकी कामयाबी पर हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है.
दरअसल, 1971 की जंग की शुरुआत 3 दिसंबर से हुई थी, जब पाकिस्तान ने हमारे हवाई क्षेत्र और सीमावर्ती क्षेत्र में हमला किया था. पाकिस्तानी को जवाब देने के लिए नौसेना की ओर से यह ऑपरेशन चलाया. यह अभियान पाकिस्‍तानी नौसेना के मुख्‍यालय को निशाने पर लेकर शुरू किया गया, जो कराची में था.

- Advertisement -

भारत की कराची में रात को हमला बोलने की योजना थी, क्‍योंकि पाकिस्‍तान के पास ऐसे विमान नहीं थे, जो रात में बमबारी कर सकें. इस जंग में भारत का कोई जवान शहीद नहीं हुआ था, जबकि पाकिस्‍तान के 5 नौसेनिक मारे गए थे, जबकि 700 से अधिक घायल हुए थे. इसी जीत का जश्‍न हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस के रूप में मनाया जाता है.

हिंदुस्‍तान की ओर से किए गए इस हमले में 3 विद्युत क्‍लास मिसाइल बोट, 2 एंटी-सबमरीन और एक टैंकर शामिल था. इस युद्ध में पहली बार जहाज पर मार करने वाली एंटी शिप मिसाइल से हमला किया गया था. भारत ने इस ऑपरेशन में पाकिस्तान पर हमले कर उनकी सैन्य शक्ति को तबाह करना शुरू कर दिया था.

Comments
Loading...